Sandeep Gajakas Success Story

94 / 100

Sandeep Gajakas Success Story: जूते पॉलिश कर इस सख्श ने बना डाली करोड़ो की कंपनी, पढ़े पूरी कहानी…read more

Sandeep Gajakas Success Story: बिजनेस और स्टार्टअप की दुनिया में अपने कई ऐसे बिजनेस की सफलता कहानी पढ़ी होंगी, जिनके फाउंडर ने एक बहुत ही छोटी सी शुरुआत से आज के समय में एक बहुत बड़ी कंपनी बना डाली है। इसी तरह आज हम आपके लिए एक और बिजनेस के सफलता की कहानी लेकर आए हैं जिसमें इस बिजनेस के फाउंडर ने जूते पोलिश करके करोड़ों की कंपनी बना डाली है।

बिल्कुल आपने सही सुना जूते पोलिश करके इस स्टार्टअप के फाउंडर ने आज एक करोड़ की कंपनी बना डाली है। भारत में हम में से कई लोग जूते पॉलिश करने को एक छोटा काम समझते हैं पर कई सफल लोगों का कहना है कि कोई भी काम छोटा या बड़ा नहीं होता और इस चीज को इस स्टार्टअप के फाउंडर ने साबित भी करके दिखाया है।

यहां पर आज हम बात कर रहे हैं Sandeep Gajakas की जिन्होंने भारत की पहली Shoe Laundry कंपनी बनाई हैं, जिसमें उनकी कंपनी लोगों के जूतों की सफाई और मुरम्मत करके पैसा कमाती है। आज के इस आर्टिकल में आप Sandeep Gajakas Success Story के बारे में पढ़ने वाले हैं और जानने वाले हैं कि संदीप ने जूते पॉलिश करते हुए कैसे आज करोड़ों की कंपनी खड़ी की हैं।

Sandeep Gajakas Success Story
Sandeep Gajakas Success Story

ऐसी हुई Sandeep Gajakas Success Story की शुरुआत

Sandeep Gajakas भारत के मुंबई के रहने वाले हैं, ये एक बहुत ही अच्छे परिवार से ताल्लुक रखते हैं। संदीप ने अपनी इंजीनियरिंग की डिग्री पूरी की हुई है और इंजीनियरिंग पूरी करने के बाद संदीप विदेश में काम करना चाहते थे। पर जिस साल वह विदेश जाना चाह रहे थे, उसी साल अमेरिका में 9/11 का हादसा हो गया था। जिसके कारण संदीप ने अपना विदेश जाने के प्लान को कैंसिल कर दिया था।

विदेश के प्लान को कैंसिल करने के बाद संदीप ने अपना खुद का बिजनेस शुरू करने का निर्णय किया। जिसके बाद उन्होंने पैसे की बचत करते हुए, सिर्फ ₹12000 से “The Shoe Laundry” कंपनी की शुरुआत की। संदीप ने इस बिजनेस को शुरू करने के लिए अपना घर ही चुना, उन्होंने अपने घर के बॉथरेम को तुड़वाकर वहां पर अपनी वर्कशॉप बनवा ली ताकि संदीप अपना यह बिजनेस शुरू कर सके।

शुरुआत में संदीप ने अपने दोस्तों के पुराने गंदे जूते उनसे लिए और उन्हें साफ करके अपने दोस्तों को लौटा दिए। इसके अलावा जिन दोस्तों के जूते खराब हो गए थे, उन जूतों की मरम्मत करके उन्हें वापस किया। संदीप के दोस्तों को संदीप का काम बहुत ही अच्छा लगा जिसके कारण शुरुआत के समय में संदीप का आत्मविश्वास इस बिजनेस को लेकर बढ़ गया और उन्होंने इस काम को जारी रखा।

घर वाले बिल्कुल भी नहीं थे खुश

संदीप ने जब अपना जूते पॉलिश करने के बिजनेस को शुरू किया था तब उनके घर वाले उनसे बिल्कुल भी खुश नहीं थे, क्योंकि संदीप ने इंजीनियरिंग करने के बाद जूते पॉलिश करने के काम को शुरू कर दिया था और कौन से ही माता-पिता अपने बेटे को जूते पोलिश करते हुए देखना चाहेंगे। इसी कारण उनके घर वाले उनसे बिल्कुल भी खुश नहीं थे।

पर इन चीजों के बावजूद भी संदीप ने अपने इस जूते पॉलिश करने के बिजनेस को जारी रखा और कभी भी इससे पीछे नहीं हटे। शुरुआत में कई लोगों ने उन्हें नीचा भी दिखाया कि तुमने इंजीनियरिंग करके जूते पॉलिश करने का काम शुरू कर दिया, लगता है तुम्हें कोई नौकरी नहीं मिली। यह कहते हुए कई लोगों ने संदीप का मजाक उड़ाया पर संदीप ने इन सभी बातों को नजरअंदाज किया और अपनी मेहनत जारी रखी।

आज बन चुकी है करोड़ों की कंपनी

Sandeep Gajakas ने अपने इस “The Shoe Laundry” कंपनी को साल 2003 में शुरू किया था पर आज उनकी यह कंपनी करोड़ों की बन चुकी है। संदीप ने शुरुवात से ही अपनी मेहनत जारी रखी और धीरे-धीरे आज यह अपने इस कंपनी की फ्रेंचाइजी पूरी दुनिया में देते हैं। आज के समय में “The Shoe Laundry” कंपनी का टर्नओवर करोड़ों में पहुंच चुका है।

इसके साथ ही आपको बता दें कि आज भारत के 10 अलग-अलग राज्यों में संदीप के इस कंपनी की फ्रेंचाइजी पहुंच चुकी है। शुरुआत में भले ही कई लोग संदीप पर हंस रहे थे पर आज संदीप की सफलता ने सभी की हंसी पर लगाम लगा डाली हैं।

Sandeep Gajakas Success Story Overview

Article Title Sandeep Gajakas Success Story
Startup Name The Shoe Laundry
Founder Sandeep Gajakas
Homeplace Mumbai, India
Khichdi Express Revenue (FY 2023) ₹2-3 Crore
Official Website https://www.shoelaundry.com/
Our Telegram Channel Link Click Here

Sandeep Gajakas को सफलता इसलिए मिल पाई क्योंकि उन्होंने खुद पर हमेशा विश्वास रखा और लोगों की नेगेटिव बातों को हमेशा ही नजर अंदाज किया। यही कारण है कि आज उन्होंने जूते पोलिश करते हुए भी एक करोड़ की कंपनी बना डाली है।

Sandeep Gajakas Success Story Interview

YouTube video

हम आशा करते हैं कि इस आर्टिकल से आपको Sandeep Gajakas Success Story की जानकारी मिल गई होगी, इसे अपने दोस्तो के साथ जरूर सांझा करें ताकि उन्हें भी इस सफलता के कहानी की जानकारी मिल सके। ऐसे ही ओर भी आर्टिकल पढ़ने के लिए Taazatime.com के साथ जुड़े रहे।

FaQ-

श्रीमानता संदीप गजकस की सफलता कहानी: जूते पॉलिश कर इस सख्श ने करोड़ों की कंपनी बनाई

संदीप गजकस की सफलता की कहानी अद्वितीय है, जिन्होंने अपनी मेहनत और संघर्ष के बावजूद जूते पॉलिश करने के बिजनेस से एक बड़ी कंपनी बनाई। उन्होंने भारत में पहली “Shoe Laundry” कंपनी खड़ी की, जो आज करोड़ों की मूल्यवर्धित कंपनी बन गई है।

Sandeep Gajakas Success Story: कहानी की शुरुआत संदीप गजकस, मुंबई के निवासी, ने एक उच्च वर्गीय परिवार से ताल्लुक रखते हैं। उन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की थी और विदेश में काम करने का सोच रहे थे, लेकिन वहां घटित होने वाले 9/11 हमले ने उनकी योजनाओं को बदल दिया। इसके बाद, उन्होंने खुद का व्यापार शुरू करने का निर्णय लिया और सिर्फ ₹12,000 से “The Shoe Laundry” कंपनी की शुरुआत की।

शुरुआती दिनों की चुनौतियाँ संदीप ने अपने दोस्तों के बुरे हालत के जूतों को साफ करने का काम शुरू किया और उन्हें वापस दिया। इसके साथ ही, उन्होंने कुछ दोस्तों के खराब जूतों की मरम्मत की और उन्हें फिर से उपहार में दिया। इससे उनके दोस्तों को संदीप का काम पसंद आया, जिसने उनके आत्मविश्वास को बढ़ाया और उन्होंने इस काम को जारी रखा।

घर वालों की असंतुष्टि शुरुआत में, संदीप के घरवाले उनसे बहुत ही असंतुष्ट थे, क्योंकि उन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई करके जूते पॉलिश करने का काम शुरू किया था। लेकिन उन्होंने अपनी मेहनत और उम्मीदों को हावी रखकर इस काम में जुटे रहने का निर्णय लिया।

करोड़ों की कंपनी बनाना 2003 में “The Shoe Laundry” कंपनी की शुरुआत करने के बाद, आज इसका टर्नओवर करोड़ों में है और इसकी फ्रेंचाइजी भारत के 10 अलग-अलग राज्यों में उपलब्ध है। संदीप ने अपने आत्मविश्वास और मेहनत से ही इस सफलता को प्राप्त किया है, जिसने सभी की आंखों में प्रतिष्ठा बढ़ा दी है।

संसार भर में सफलता का सफर संदीप गजकस की यह कहानी बताती है

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now     

Leave a comment